कुछ दिनों के अंदर ही सऊदी अरब के हेल क्षेत्र में एक और भीषण दुर्घ-टना हुई, जिसके परिणामस्वरूप दो महिलाओं की मौके पर ही मौ-त हो गई, जबकि एक युवक और एक महिला गं-भीर रूप से घा-यल हो गए और उन्हें गं-भीर हालत में अस्पताल ले जाया गया।

सऊदी अखबार अल-मार्सैड के अनुसार, कल ओलावृष्टि से तबुक तक सड़क पर एक भया-नक यातायात दुर्घ-टना हुई।जानकारी के अनुसार तीन महिलाओं और एक युवा ड्राइवर को ले जा रही एक कार सड़क के किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई। नतीजतन, दो महिलाओं की मौके पर ही मौ-त हो गई, जबकि युवा चालक और एक महिला गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें पास के अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। हा-दसा इतना भीषण था कि कार बुरी तरह से दुर्घ-टना-ग्रस्त हो गई।

जिसमें जीवित और मृ-त लोगों को बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला  गया।घायलों को अल-आला के प्रिंस अब्दुल मोहसिन अस्पताल ले जाया गया। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कुछ दिन पहले, हायल में एक भया-नक दुर्घ-टना में नौ लोग मारे गए थे, जिसमें चार पाकिस्तानी प्रवासी शामिल थे

दुर्घ’टना हेल शहर से 250 किमी दूर हुई, जिसके परिणामस्वरूप दो वाहनों में सवार 9 व्यक्तियों की मौके पर ही मौ-त हो गई। नागरिक सुरक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने कहा कि पांच लोगों पर मुशतमिल का सऊदी परिवार अपनी कार में यात्रा कर रहा था, तभी सामने से आ रहा एक पिकअप ट्रक उनकी कार से टकरा गया।


नतीजतन, दोनों वाहनों में आग लग गई। नतीजतन, पिकअप में एक ही सऊदी परिवार के पांच सदस्य और चार पाकिस्तानियों की मौ-त हो गई। जब तक प्राथमिक चिकित्सा दल घटनास्थल पर पहुंचे, तब तक कोई भी यात्री जीवित नहीं बचा था। सभी अपात्रों को हाईट कमिश्नर के मुर्दाघर में स्थानांतरित कर दिया गया है।

प्रवक्ता के अनुसार, सऊदी परिवार हेल का निवासी था। परिवार का मुखिया मारज़ुक अल-रशीदी नाम के हेल में एक पुलिस हवलदार था। मारज़ुक अपनी पत्नी, दो बेटियों और एक बेटे के साथ एक रिश्तेदार से मिलने गया था। हालांकि, उन्होंने अपने 17 वर्षीय बड़े बेटे को घर पर छोड़ दिया, अन्यथा उनकी जान सुरक्षित नहीं थी। जबकि पिकअप में बैठे पाकिस्तानी भी एक दूसरे को जानते थे। वर्तमान में, पाकिस्तानी श्रमिकों की पहचान नहीं की गई है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here