DESK : पुलिस जिस पर लोगों के सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है, जब वहीं लोगों के साथ गंदे काम करने लग जाए तो फिर लोग किसके बल बूते सुरक्षित होने का सोच रखेंगे. एक ऐसा ही मामला राजस्थान के अलवर से सामने आया है, जहां एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने 32 साल की एक विवाहित महिला के साथ खुद भी रेप किया और फिर अपने साथियों से भी करवाया.

इतना ही नहीं शातिर पुलिस वाले ने रेप का वीडियो भी बना लिया और उसे वायरल करने की धमकी देकर महिला का यौन शोषण करने लगा. 3 महीने तक सबकुछ झेलने के बाद हार कर महिला थाने पहुंची जहां से उसे धक्के मारकर भगा दिया गया. आखिर में एसपी के पास गुहार लगाई, तब जाकर केस दर्ज हुआ. इसके बाद आरोपी पुलिस कांस्टेबल संजय कुमार को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

पीड़िता ने बताया कि रैणी थाने में पोस्टेड कांस्टेबल संजय कुमार आते जाते उसका पीछा करता था.एक दिन उसे अकेले पाकर दबोल लिया औऱ पहले तो उसके साथ रेप किया औऱ फिर वीडियो बनाकर उसे वायरल करने की धमकी देकर उसका शारीरिक शोषण कर रहा था.जब इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंची तो उसे भगा दिया गया. फिर पुलिस वाले ने किसी को कुछ बताया तो उसको बदनाम करने की धमकी देने लगा. एक दिन किसी दूसरे साथी को लेकर आया और उसके साथ भी गलत काम करने का दबाव बनाने लगा. आखिरकार पीड़िता ने तंग आकर सारी बातें अपने पति को बताई और रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंची तो उसे भगा दिया गया.

इसके बाद महिला आपने पति के साथ एसपी अलवर तेजस्वनी गौतम से मिली और अपनी व्यथा सुनाई. जिसके बाद आरोपी पर मामला दर्ज कर लाइन हाजिर कर दिया गया है. आरोपी कांस्टेबल संजय कुमार रैणी थाने में कम्यूटर ऑपरेटर के पद पर तैनात है.एसपी ने जांच के बाद मामला दर्ज नहीं करने वाले एसएचओ ओर पुलिसकर्मियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here