गोपालगंजः लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान एनडीए से अलग होकर इस बार चुनाव लड़ रहे हैं. लोजपा निशाने पर है है जेडीयू. वहीं, टिकट से बेदखल होने वाले बीजेपी और जेडीयू नेताओं को टिकट भी थमा रही है. वहीं, अब पार्टी में बड़ी टूट देखने को मिली है. जहां, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव ने चिराग पासवान का साथ छोड़ दिया है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Loading...

लोजपा के राष्ट्रीय महासचिव काली प्रसाद पांडेय ने लोजपा से नाता तोड़ लिया. मंगलवार को पांडेय कुचायकोट विधानसभा सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में नामांकन पर्चा दाखिल किया है. हालांकि, पिछली बार विधानसभा चुनाव में कुचायकोट विधानसभा सीट से काली पांडेय ने लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था.

तब लोजपा एनडीए में थी. काली पांडेय को चुनाव में जदयू प्रत्याशी अमरेंद्र कुमार पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय से करीब 3500 वोट से हार का सामना करना पड़ा था.

कांग्रेस का झंडा देख चौंके लोग

बताया जा रहा है कि इस बार भी लोजपा के के टिकट पर कुचायकोट विधानसभा सीट से चर्चित काली पांडेय चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे. हालांकि, मंगलवार को काली प्रसाद पांडेय के समर्थकों के वाहन पर कांग्रेस का झंडा देखकर लोग चौक गए. कांग्रेस का झंडा लेकर चल रहे अपने समर्थकों के साथ काली पांडेय नामांकन करने कलेक्ट्रेट पहुंचे. कुचायकोट विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया.

Get Today’s City News Updates

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here