गोरखपुर. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (Cm Yogi Adityanath) बीजेपी संगठन से जुड़े पुराने कार्यकर्ताओं से रिश्ता निभाने में बढ़-चढ़कर आगे रहते हैं. ऐसा ही एक मामला गोरखपुर (Gorakhpur) में आया है. 25 साल से बीजेपी की सेवा कर रहे एक कार्यकर्ता अखिलेश यादव का सीएम योगी आदित्यनाथ से पुराना परिचय है. पिछले दिनों अखिलेश यादव अपनी बेटी की शादी के लिए निमंत्रण लेकर सीएम योगी से मिला था. अब डीएम की तरफ से संदेश आया है कि सीएम योगी ने शादी के लिए दो लाख रुपए की आर्थिक सहायता भेजी है.

दरअसल, सदर क्षेत्र में स्थित अकोलोहिया गांव के रहने वाले अखिलेश यादव लंबे समय से बीजेपी से जुड़े रहे हैं. संगठन से जुड़ी किसी भी जिम्मेदारी को वह पूरी निष्ठा से निभाते हैं. सीएम योगी भी अखिलेश को बखूबी जानते हैं. पिछली 9 फरवरी को सीएम योगी का खोराबार स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आरोग्य मेले का उद्घाटन कार्यक्रम था. अखिलेश भी यहां पहुंचे थे.

कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी से मुलाकात हुई, तो उन्होंने अपनी बेटी की शादी तय करने की जानकारी दी. अखिलेश ने बताया कि उनकी बेटी अंजली का 3 मई को तिलक जाएगा. उसकी 17 मई को शादी है. इसके बाद दूसरे दिन अखिलेश ने गोरखनाथ मंदिर में सीएम योगी से मुलाकात की और बेटी की शादी का न्योता दिया. सीएम ने इसे स्वीकार कर लिया.

मंगलवार 17 मार्च को अखिलेश यादव के पास डीएम कार्यालय से मैसेज पहुंचा. मैसेज पढ़कर खुशी से उनकी आंखें भर आईं. उन्होंने फोन लगाया तो डीएम के. विजयेंद्र पांडियन ने अखिलेश को बताया कि सीएम ने उनकी बेटी की शादी के लिए 2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता मंजूर की है. निर्धन योजना के तहत यह चेक उन्हें विधायक विपिन सिंह मुहैया कराएंगे.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here