सुशांत सिंह राजपूत के रहस्यमई मौत के केस में कई एंगल सामने आ चुके हैं। कई एजेंसियां भी इस रहस्य को सुलझाने में लगी हुई हैं। कल के व्हाट्सएप मैसेज रिकॉर्ड के बाद अब नारकोटिक्स की टीम भी इस जांच से जुड़ गई है। वही एक तरफ मिल रहे सबूत से रिया चक्रवर्ती अपने ही चक्रव्यूह में फंसती नजर आ रही हैं। वहीं दूसरी तरफ उन्हें बुलाकर एक चैनल बहुत ही सिंपल और चुनिंदा सवालों के साथ एक्सक्लूसिव इंटरव्यू करने का दावा करता है।

पब्लिक के द्वारा इस इंटरव्यू को कोई खासा रिस्पांस नहीं मिल रहा है। लेकिन इस इंटरव्यू को अब एक दूसरे एंगल से देखा जा सकता है। अगर उस इंटरव्यू को ध्यान से सुना जाए उसमें बहुत ही सीधे तरह के सवाल पूछा गया है। जबकि सुशांत केस की मुख्य आरोपी में से एक रिया चक्रवर्ती हैं। जांच एजेंसियां मुंबई पुलिस सब उन्हें बार-बार इस केस मैं पूछताछ के लिए बुलाते रहे हैं। कल के व्हाट्सएप चैट डिटेल से यह तो साबित नहीं हो सका है रिया चक्रवर्ती नहीं सुशांत सिंह को ड्रग्स दिया इतना जरूर कहा जा सकता है कि रिया चक्रवर्ती का ड्रग्स माफिया से कोई कनेक्शन है।

रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ में ईडी को भी सहयोग नहीं किया था। ना ही वह कभी मीडिया के सामने आकर कुछ बोली। फिर आज सुबह अचानक से एक चैनल पर आना और बहुत ही डटकर सीधे तरीके से सवालों का जवाब देना।सुशांत के बारे में यह बोलना क्यों क्लस्ट्रोफोबिक था, मेंटली इल था, और तरह तरह के झूठे आरोप लगाना यह साबित करता है कि वह यह इंटरव्यू बचने के लिए कर रही थी। ताकि वह जनता का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कर सके सुशांत को बदनाम कर सके और इस केस मैं उन्हें एक आरोपी की तरह ना देखा जाए ।

इस इंटरव्यू के सवालों को देखकर भी कई प्रश्न उठाए जा रहे हैं कि क्या किसी केस के मुख्य आरोपी से सिर्फ इतने सीधे सवाल पूछे जाने चाहिए कि क्या आपने उनके स्टाफ को बदला?, क्या आप उनके पैसे पर ऐश करती थी? जब इसका जवाब सिर्फ नहीं आता है तो उस पर कोई क्रॉस क्वेश्चन नहीं करना चाहिए। इस इंटरव्यू की आलोचना यह कह कर भी की जा रही है की इंटरव्यू को देखकर ऐसा लग रहा था क्वेश्चन और आंसर पहले से ही प्लान कर लिया गया है।
See Daily City News

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here