रेल मंत्रालय की ओर से ट्वीट कर यह जानकारी दी गई गई कि लॉकडाउन के बाद यात्री सेवाओं को फिर से शुरू करने के बारे में ऐसी कोई योजना जारी नहीं की गई है. यात्री सुविधाओं के बारे में अगर ऐसी कोई योजना बनती है तो इसके बारे में रेलवे की ओर से आधिकारिक जानकारी लोगों को दी जाएगी.

को/रोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पीएम मोदी ने 24 मार्च को देश में तीन सप्ताह के लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसके मद्देनजर रेलवे ने भी 14 अप्रैल तक के लिए यात्री ट्रेन की सेवाएं स्थगित कर दी थी। कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि लॉकडाउन के बाद की अवधि यानी 15 अप्रैल से ट्रेनों के टिकटों की बुकिंग आईआरसीटीसी की साइट पर हो रही है। हालांकि, रेलवे ने साफ किया है कि 14 अप्रैल के बाद की ट्रेन यात्रा के लिए टिकटों की बुकिंग कभी बंद ही नहीं हुई थी। रेलवे ने अपने बयान में कहा है कि रेलवे टिकटों की बुकिंग लॉकडाउन की अवधि 24 मार्च से 14 अप्रैल के लिए बंद हुई है।

कुछ लोगों को भ्रम था कि लॉकडाउन की वजह से आईआरसीटीसी की वेबसाइट भी बंद हो गई थी पर यह हमेशा चालू रहती है और सिर्फ ट्रेन रद्द होने पर टिकट की बुकिंग नहीं होती है। चूंकि 14 अप्रैल तक सारी यात्री ट्रेनें कैंसल हैं तो इस तारीख तक टिकटों की बुकिंग नहीं हो रही है लेकिन उसके बाद की तारीखों के टिकट बुक किए जा सकते हैं। 14 के बाद लॉकडाउन आगे बढ़ता है और 15 से अगर ट्रेनें फिर कैंसल होती हैं तो एडवांस बुक टिकट खुद कैंसल हो जाएंगे और पैसा यूजर्स के अकाउंट में आ जाएगा।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here