नई दिल्लीः बिहार में कोरोना काल के दौरान सफल चुनाव संपन्न कराने के बाद अन्य राज्यों में चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग पूरी तरह तैयार है. विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा ने कहा कि हमारे लिए मतदाताओं को सुरक्षित, मजबूत और जागरूक रखना सबसे बड़ा काम है.

सुनील आरोड़ा ने कहा कि हमने कोरोना दौर में राज्यसभा की 18 सीटों के लिए चुनाव की शुरुआत की. फिर बिहार चुनाव कराया. अब ये पांच विधान सभा चुनाव ज्यादा चुनौती भरे हैं. बंगाल में पहले चरण में का मतदान 27 मार्च को होगा. दूसरे चरण में 30 सीट पर पड़ेंगे वोट दूसरे चरण का मतदान एक अप्रैल को होगा.

तमिलनाडु में एक ही चरण में होगा चुनाव

तीसरे चरण का मतदान 31 सीट पर होगा और छह अप्रैल को यहां वोट डाले जायेंगे. चौथे चरण में 44 सीट वोट डाले जायेंगे और मतदान 10 अप्रैल को होगा. पुडुचेरी में भी एक चरण में डाले जायेंगे वोट. मतदान छह अप्रैल को होगा. तमिलनाडु के 234 सीट पर एक ही चरण में वोट डाले जायेंगे. यहां छह अप्रैल को मतदान होगा.

6 अप्रैल को केरल में मतदान

केरल के एक 140 विधानसभा सीट पर एक चरण में मतदान होंगे. यहां मतदान छह अप्रैल को होगा वहीं, असम में तीन चरणों में मतदान होगा. पहले चरण का मतदान 27 मार्च, दूसरे चरण का मतदान एक अप्रैल और तीसरे चरण का मतदान छह अप्रैल को होगा.

ये भी पढ़ेंः अंबानी परिवार को धमकी भरा चिट्ठी! ये तो सिर्फ ट्रेलर है मुकेश भैया, नीता भाभी! पूरा इंतजाम हो गया है’

चुनाव आयोग ने बताया कि इन राज्यों में चुनाव की घोषणा के बाद ही आचार संहिता लागू हो जायेगी. आयोग ने घोषणा की कि किसी भी राज्य में होली और अन्य त्योहार एवं सीबीएसई की परीक्षा के दौरान चुनाव नहीं होंगे. सुनील अरोड़ा ने बताया कि चार राज्य और एक केंद्र शासित प्रदेश में सीसीटीवी की निगरानी में मतदान होंगे.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here