बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिमी हिस्से के ऊपर गहरे दबाव का क्षेत्र बना जो पश्चिम-उत्तर की ओर बढ़कर चक्रवाती तूफान निवार में तब्दील हो गया है. मौसम विभाग का कहना है कि चक्रवाती तूफान निवार बुधवार को तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से टकरा सकता है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Loading...

मौसम विभाग का कहना है कि तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के ज्यादातर हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना जताई है. चक्रवात निवार फिलहाल पुडुचेरी से करीब 400 किलोमीटर दूर है. अगले 24 घंटे में तेजी से आगे बढ़ते हुए विकराल रूप ले सकता है. तूफान, 25 नवंबर की शाम को कराईकल और मामल्लापुरम के बीच तमिलनाडु और पुडुचेरी के तट से टकरा सकता है. इस दौरान 100 से 110 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से हवा चलने की आशंका है.

तमिलनाडु के कई जिलों मे बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक 24 नवंबर से 26 नवंबर के दौरान तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में गरज के साथ तेज बारिश हो सकती है. बता दें कि बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के कारण तमिलनाडु के कई जिलों में रात से ही बारिश का सिलसिला जारी है.

ये भी पढ़ेंः भाई को इंसाफ नहीं मिलता देख सुशांत की बहन ने फैंस को लिखा ओपेन लेटर, तकलीफ से गुजरी हूं…

पुडुचेरी में धारा 144 लागू

वहीं, पुडुचेरी के जिला मजिस्ट्रेट ने Cyclone Nivar को देखते हुए आज रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक, पूरे इलाके में 26 नवंबर तक धारा 144 लगाया गया है. इस दौरान सभी दुकानें बंद रहेंगी. जबकि दूध की दुकानें, पेट्रोल पंप खोलने की इजाजत है.

वहीं, तमिलनाडु के नागापट्टिनम और कराईकल क्षेत्रों में राष्ट्रीय आपदा बचाव दल (NDRF) की 6 टीमों को अलर्ट किया गया है.

Get Today’s City News Updates

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here