केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 4% बढ़ा, 17 से बढ़कर 21% हुआ डीए, 48 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को लाभ

नई दिल्ली : केंद्रीय कर्मचारियों को मिलने वाले महंगाई भत्ते (डीए) में चार फीसद की बढ़ोतरी की गई है। यह बढ़ोतरी एक जनवरी, 2020 से मान्य होगी। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट कमेटी में यह फैसला किया गया। इस फैसले से 48.34 लाख केंद्रीय कर्मचारी और 65.26 लाख पेंशनभोगी को फायदा होगा। अभी केंद्रीय कर्मचारियों को 17 फीसद महंगाई भत्ता मिलता है जो अब 21 फीसद हो जाएगा। महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी से सरकार पर 14,595 करोड़ रुपए का भार आएगा।

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में आयोजित कैबिनेट कमेटी की बैठक में ग्रीन नेशनल हाईवे (एनएच) कॉरिडोर बनाने का भी फैसला किया गया। फैसले के मुताबिक ग्रीन एनएच की लागत 7662.46 करोड़ रुपये होगी। यह देश के चार राज्य हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश को जोड़ेगा।

कितना होगा फायदा : केन्द्रीय कर्मचारियों के डीए में 4 फीसदी की बढ़ोतरी का मतलब है कि हर महीने की सैलरी में 720 रुपए से 10,000 रुपए प्रति माह की बढ़ोतरी होगी। केंद्र सरकार ने पहले कहा था कि महंगाई भत्ता (डीए) और महंगाई राहत (डीआर) 1 जनवरी 2020 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए देय था। देय डीए/डीआर का भुगतान इस महीने किया जाएगा क्योंकि यह सामान्य रूप से किया जाता है।

इससे पहले 2019 में 5 फीसदी बढ़ा था डीए : इससे पहले 10 अक्टूबर 2019 को भी केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5 फीसदी बढ़ा था। इसके बाद महंगाई भत्ता 12 से बढ़कर 17 फीसदी हो गया था। महंगाई भत्ता और महंगाई राहत हर साल क्रमश: एक जनवरी और एक जुलाई से दिया जाता है और इसका भुगतान क्रमश: मार्च और सितंबर महीने से किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here