मुंबईः हैदराबाद नगर निगम के चुनाव में बीजेपी ने बेहतर प्रदर्शन किया है लेकिन अपने गढ़ में ही हारती नजर आ रही है. महाराष्ट्र के विधान परिषद चुनावों में बीजेपी को करारा झटका लगा है. स्नातक और शिक्षक इलाकों की 6 में से 4 सीटों पर सत्ताधारी महाराष्ट्र विकास अघाड़ी ने बाजी मारी है.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

धुले-नंदुरबार से एक सीट (उपचुनाव) बीजेपी के खाते में गई है. अमरावती शिक्षक सीट पर निर्दलीय आगे है. वहीं, बीजेपी अपने दो गढ़ पुणे और नागपुर को गवा दिया है. पुणे डिविजन की स्नातक सीट से एनसीपी के अरुण लाड और औरंगाबाद डिविजन की स्नातक सीट से सतीश चह्वाण ने जीत हासिल की है.

नागपुर में कांग्रेस की जीत

इससे पहले गुरुवार को बीजेपी के अमरीश पटेल ने महाराष्ट्र विधान परिषद के धुले-नंदुरबार क्षेत्र के उप चुनाव में जीत हासिल की थी. आसगावकर पुणे डिविजन की शिक्षक सीट से कांग्रेस के जयंत दिनकर आगे चल रहे हैं. जबकि नागपुर डिविजन की स्नातक सीट से कांग्रेस के अभिजीत वंजारी जीते हैं.वहीं, अमरावती डिविजन की शिक्षक सीट से निर्दलीय उम्मीदवार किरण सरनाईक आगे चल रहे हैं.

आरएसएस के गढ़ में हार

बता दें कि नागपुर स्नातक सीट का जाना बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका है, क्योंकि पिछले 5 दशकों से यह बीजेपी और आरएसएस का गढ़ रहा है. इस सीट से पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पिता गंगाधरराव फडणवीस 12 साल प्रतिनिधि रहे. जबकि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का इस सीट पर 25 साल दबदबा रहा है.

Get Today’s City News Updates

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here