पटनाः उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर फटने से भारी तबाही मची है.  जोशीमठ के तपोवन इलाके में ग्लेशियर फटने से ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट को भारी नुकसान पहुंचा है. इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे करीब 150 लोग लापता बताए जा रहे हैं.

जोशीमठ की एसडीएम कुमकुम जोशी ने कहा कि पावर प्रोजेक्ट बर्बाद हो चुका है. पूरी नदी मलबे में तब्दील हो गई है और मलबा धीरे-धीरे बह रहा है. अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है वहीं 150 लोग लापता हैं. तपोवन टनल में अभी भी 15-20 लोग फंसे हुए हैं जिनका रेस्क्यू किया जा रहा है.

ये भी पढ़ेंः उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही, 150 लोग लापता 3 लाश बरामद

वहीं, राहत कार्य के लिए आईटीबीपी, NDRF और SDRG की कई टीमें मौके पर पहुंचीं हैं. श्रीनगर, ऋषिकेश और हरिद्वार में अलर्ट है. उत्तराखंड के CM त्रिवेंद्र सिंह रावत ने घटना स्थल पर पहुंच स्थिति की जानकारी ली है. पीएम नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात की है. मुख्यमंत्री ने पूरी घटना की जानकारी देते हुए बताया कि तेजी से राहत एवं बचाव कार्य चल रहा है.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here