जम्‍मू-कश्‍मीर: डीएसपी देविंदर सिंह के आ’तंकियों के साथ प’कड़े जाने के बाद कई बड़े- बड़े राज खुल रहे है। पुलिस के सूत्रों ने बताया कि देविंदर सिंह को आ’तंकवा’दियों को जम्‍मू ले जाने के लिए 10 लाख रुपये दिए गए थे। पुलिस ने कहा- ‘सिंह ने दावा किया है कि एक और वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी आ’तंक’वादियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। जांचकर्ताओं ने कहा है कि हम इसकी पुष्टि करेंगे क्‍योंकि यह जांच को भ’टकाने का एक प्रयास भी हो सकता है।’

मिली जानकारी के अनुसार, पिछले साल सिंह ने पिछले साल हि’ज्‍बुल के आ’तंक’वादी नवीद बाबू को जम्‍मू ले गया था। सूत्रों ने कहा, ‘नवीद ने सिंह को 8 लाख रुपये दिए थे और वह दो महीने तक जम्‍मू में रहा था।

11 जनवरी को जब सिंह को नवीद बाबू और एक अन्‍य आ’तंक’वादी के साथ अ’रेस्‍ट किया गया था, तब उसने दावा किया था कि दोनों ही लोग आत्‍म’समर्पण करने वाले थे। लेकिन जांचकर्ताओं ने कहा है कि DSP देविंदर सिंह झूठ बोल रहा है।’ इस मामले की जांच अब NIA कर रही है। डीएसपी देविंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद और भी बड़े खु’लासे होने बाकी है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here