पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नेताओं के पार्टियां बदलने का दौर जारी है. वीआईपी के प्रदेश संगठन प्रभारी के पद से इस्तीफा देने वाले संतोष कुशवाहा ने रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा का दमन थाम लिया है. पटना स्थित प्रदेश कार्यालय में संतोष कुशवाहा ने अपने समर्थकों के साथ रालोसपा ज्वाइन किया.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Loading...
रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने संतोष कुशवाहा को पार्टी का प्राथमिक सदस्यता दिलाई है. वीआईपी के प्रदेश संगठन प्रभारी रहे संतोष कुशवाहा की नाराजगी वीआईपी पार्टी कार्यकर्ताओं को टिकट देने के बजाए बीजेपी कार्यकर्ताओं को वीआईपी के सिंबल पर चुनाव लड़ाने को लेकर है. उन्होंने आरोप लगाया कि सामंतवाद से समझौता कर पूंजीवाद के सामने मुकेश साहनी ने घुटने टेक दिए हैं.
इस संदर्भ में संतोष कुशवाहा ने एक पोस्ट लिखा. उन्होंने कहा कि विकासशील इंसान पार्टी (VIP) के प्रदेश संगठन प्रभारी रहते हुए मुकेश साहनी जी से लिखित रूप में आग्रह किया था कि हम चुनाव लड़े या न लड़े कोई बात नहीं.
लेकिन पार्टी हित मे अधिक से अधिक पार्टी में पहले से समर्पित कार्यकर्ता को हीं पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ाया जाय लेकिन ऐसा हुआ नहीं. इसलिए मैंने पार्टी छोड़ने का निर्णय लिया.
बता दें कि कुशवाहा इससे पहले जेडीयू के युवा प्रदेश अध्यक्ष भी रहे चुके हैं नीतीश कुमार से मतभेद होने के बाद पार्टी को अलविदा कह दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here