सासारामः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सासाराम से बिहार मे चुनाव प्रचार की शुरूआत की. उन्होंने लोजपा संस्थापक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह को श्रद्धांजलि देते हुए अपनी पहली बिहार चुनाव रैली की शुरुआत की.

नरेंद्र मोदी के पहले सभा में दिवंगत रामविलास पासवान और रघुवंश बाबू के याद करने पर कई सियासी मायने निकाला जा रहा है. आखिरी समय में दोनों नेता अपने सहयोगी से दुखी थे. जहां, तेजप्रताप यादव के रघुवंश बाबू को एक लोटा बोलने से सदमे में थे. आखिरी समय में लालू यादव को चिट्ठी लिखकर आरजेडी से इस्तीफा दे दिया था. वहीं, लालू परिवार पर कई सवाल खड़े किए थे.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

रामविलास-रघुवंश बाबू के जरिए निशाना

दूसरी तरफ नीतीश कुमार और एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान से बिगड़े रिश्ते जगजाहिर है. चिराग पासवान ने नीतीश कुमार पर रामविलास पासवान को अपमानित करने का आरोप तक लगाया था. एनडीए से अलग होकर चुनाव लड़ने के बावजूद चिराग पासवान मोदी-अमित शाह के प्रति समर्पित हैं. चिराग ने खुद को पीएम नरेंद्र मोदी का हनुमान तक बता डाला है.

ये भी पढ़ेंः तेजस्वी ने किया तिरंगे का अपमान! उपेंद्र कुशवाहा बोले-तिरंगा के सम्मान तक का ज्ञान नहीं है

एक तीर कई निशाने

ऐसे में पीएम मोदी से सभी की शुरूआत दोनों को याद कर उनके बारे में चर्चा करते हुए सहयोगी और विरोधी दोनों पर निशाना साधा. एक तरफ लालू परिवार पर रघुवंश बाबू को एक लोटा वाला बयान से अपमानित करने की तरफ इशारा करने की कोशिश की तो दूसरी तरफ रामविलास पासवान फैमली और नीतीश कुमार के बीच बढ़ चले खाई को लेकर. बता दें कि एलजेपी बिहार में बीजेपी के कई बागियों को टिकट देकर जेडीयू के सामने मुश्किल खड़ी कर दी है.

Get Today’s City News Updates

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here