पटना/रांची: पटना: बिहार चुनाव में महागठबंधन का साथ धीरे-धीरे कर घटक दल छोड़ते जा रहे हैं. आरएलएसपी और वीआईपी के बाद अब जेएमएम ने बगावत कर दिया है. पार्टी ने बिहार में अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है.

झारखंड मुक्ति मोर्चा महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हमारी तैयारी थी कि बिहार महागठबंधन में आरजेडी के साथ मिल कर चुनाव लड़ें. हम चाहते थे कि बीजेपी को मिलकर बिहार में रोका जाए. राजनीति में परिस्थितियां बदल जाती है.

तेजस्वी पर साधा निशाना

जेएमएम ने कहा कि आरजेडी का वर्तमान नेतृत्व पुरानी चीजों को याद नहीं रखना चाहता है. जेएमएम सम्मान के साथ समझौता नहीं कर सकता है. साथ ही उन्होंने कहा कि आरजेडी ने राजनीतिक मक्कारी की है. अपने संगठन के बूते बिहार में निर्णायक सीटों पर हम लड़ेंगे. हम जिस सीट पर लड़ेंगे, उस पर लड़ेंगे.

जेएमएम इन सीटों पर लड़ेगी चुनाव

जेएमएम का कहना है कि झारखंड में बुझे हुए आरजेडी के प्रदेश कार्यालय में हमने दिया जलाने का काम किया है. हम लालू जी का सम्मान करते हैं और करते रहेंगे. लालू यादव सामाजिक न्याय और राजनीतिक भागीदारी की बात करते हैं.
जेएमएम ने बिहार की झाझा, चकई, कटोरिया, धमदाहा, मनिहारी, पीरपैंती और नाथ नगर से चुनाव लड़ेगी. जेएमएम हर फेज में चुनाव लड़ेगी. आरजेडी को 144 सीट मुबारक उनको फिर भी हमें उन्हें हमारी जरूरत पड़ेगी क्योंकि बिहार में बहुकोणीय मुकाबला है. उन्होंने कहा है कि हमारे नेता बिहार में सामंजस्य बनाकर काम करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here