JEHANABAD : बारामूला आतंकी हमले में देश की सुरक्षा करते शहीद हुए बिहार के दाे सीआरपीएफ जवानाें का पार्थिव शरीर मंगलवार को पटना एयरपोर्ट पर पहुंचा. जहां शहीद जवानों को सलामी दी गई. इस मौके पर बिहार सरकार के कई मंत्री, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव समेत तमाम आला अधिकारी मौजूद रहे.इसके बाद शहीद के शव को उनके गांव ले जाया गया.

Loading...

जहानाबाद के रतनी फरीदपुर प्रखंड के अइरा गांव का लाल लवकुश शर्मा भी इस हमले में शहीद हो गए. उनका शव जैसे ही पटना एयरपोर्ट से निकला उनके पीछे युवकों की टोली थी.सभी भारत माता की जय औऱ शहीद लवकुश अमर रहे के नारे लगा रहे है. शहीद का पार्थिव शरीर जैसे ही जहानाबाद पहुंचा जनसैलाब उमड़ पड़ा. कोरोना काल के इस दौर में भी लोगों की लाइन लगी थी जो अपने शहीद बेटे को एक झलक देखना चाहते थे.

युवकों की टोली थी जो शहीद लवकुश अमर रहे के नारे लगा रहे थे. आंखों नम थीं और मन में गुस्सा.सभी का बस एक ही कहना था कि शहीद का बदला लिया जाए. इसके बाद शहीद का पार्थिव शरीर अइरा पहुंचा, जहां पहले से ही हजारों की संख्या में लोग जमा था. सभी बस एक ही नारा लगा रहे थे..जब तक सुरज चांद रहेगा….लवकुश तेरा नाम रहेगा. शहीद लवकुश अमर रहे….

लेकिन शहीद का पार्थिव शरीर घर पहुंचते ही कोहराम मच गया. शहीद की पत्नी और मां बेसुध हो गई. अपने एकलौते बेटे का शव देखकर पिता अपना होश खो बैठे. तीन साल की बेटी अपने पिता को जगा रही थी….उनके शहादत की खबर से घर में कोहराम मच हुआ है. पत्नी अनीता का रो-रोकर बुरा हाल है.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here