पटना: मेवालाल चौधरी के इस्तीफे के बाद भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने शिक्षा विभाग का प्रभार सोमवार को संभाल लिया. इस मौके पर मंत्री अशोक चौधरी ने स्कूलों में खाली पड़े पदों को भरने, संविदा पर काम कर रहे शिक्षकों और निजी स्कूलों के मामले पर खुलकर बात की.

Immediately Receive Kuwait Hindi News Updates

Loading...

शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने अपनी प्राथमिकता बताते हुए कहा कि सबसे पहले विवि के स्तर पर जो असिस्टेंस प्रोफेसर, प्राथमिक शिक्षकों के खाली पदों को जल्द से जल्द भरा जाएगा. वहीं सरकारी स्कूलों में गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा बहाल करने की दिशा में काम किया जायेगा. संविदा शिक्षकों के मांग और आंदोलनों पर चौधरी ने कहा कि सैलरी देना और बढ़ाना एक बात है, लेकिन जो स्कूलों में पढ़ाई हो रही है, उसे भी सुधारना आपका ही काम है.

ये भी पढ़ेंः बिहार में स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी का आ गया है बड़ा बयान

प्राइवेट स्कूलों के मनमानी पर शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि कोरोनाकाल में काफी शिकायतें आयी हैं, उनको कैसे सम्भालना है उसपर विभाग सख्त है. विभाग उन सब चीजों को ठीक करेगा. वहीं, कोरोना काल में शिक्षा को शुरू करने की चुनौती पर अशोक चौधरी का कहना है कि ई-लर्निंग पर विभाग पूरी तरह से कार्य करेगा.

Get Daily City News Updates

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here