बिहार : मुख्य सचिव की अध्यक्षता में सोमवार को संपन्न हुई क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में क्या निर्णय लिया गया कि राज्य में मंगलवार से बसों का परिचालन आरंभ किया जाएगा ।अनलॉक 3 में अब तक सार्वजनिक परिवहन जैसे ऑटो, टैक्सी, कैब को छोड़कर सारी चीजों पर बैन था । उस प्रतिबन्ध को अब हटाने का फैसला ले लिया गया है। कोविड-19 के तहत बसों के परिचालन के लिए सारे दिशा निर्देशों का पालन करना होगा ।सोशल डिस्टेंसिंग ,बस के ड्राइवर से लेकर कंडक्टर एवं सफर करने वाले सभी यात्रियों को मास्क पहनना अनिवार्य है। ऐसा नहीं किए जाने पर बस ड्राइवर या संचालक पर कड़ा एक्शन लिया जा सकता है।

बिहार राज्य में करोना के कुल 123383 से भी ज्यादा मरीज हैं। जिनमें से एक लाख से ज्यादा मरीज कोरोना को हरा चुके हैं। बिहार में अब रिकवरी रेट 82.15 है जिसे सरकार ने यह छूट देने की बात की।मगर इस छूट का लाभ सतर्कता के साथ ही लिया जा सकता है। अब सुबह और शाम दोनों वक्त खुली रहेंगी मांस -मछली और सब्जी के भी दुकान ।

Loading...

जारी गाइडलाइन का पालन करना हर किसी के लिए अनिवार्य है इसमें जरा भी कोताही बरती गई तो बसों का परमिट रद्द कर दिया जाएगा, साथ ही साथ कार्रवाई भी हो सकती है। सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को सुचारु रुप से लागू करने के लिए डीएम एसपी और एसएसपी कार्य वध होंगे। जानकरी केलिए यह भी बता दें की जल्द ही दिल्ली सरकार भी मेट्रो शुरू करने पर विचार कर रही है |

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here