PATNA : भागलपुर का mukesh दिल्‍ली में रहकर मजदूरी करता है। गत दिवस उसकी मां का भागलपुर में गेहूं काटने की मशीन में साड़ी फंसने के बाद मृत्यु हो गई। मुकेश इकलौता पुत्र है। सो अंतिम संस्कार भी उसके बिना नहीं हो सकता। फोन से मुकेश तक सूचना तो पहुंच गई, लेकिन लॉकडाउन के चलते वहां से नहीं निकल सका। तब दिल्‍ली की योगिता भयाना ने ट्वीट के जरिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उसकी मदद की गुहार की । इसकी जानकारी मिलने पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहनझा ने उसकी मदद की पहल की। वह बुधवार को भागलपुर पहुंच जाएगा।

मुकेश Bhagalpur के दीनदयालपुर का रहने वाला है। वह, उसका चचेरा भाई और बहनोई दिल्‍ली में सराय काले खां में रहकर मेहनत- मजदूरी करते हैं। सोमवार को उसे सूचना मिली कि उसकी मां की मृत्यु हो गई है। परिवार में पिता के अलावा मुकेश और उसकी दो बहनें हैं। इसमेंएक का विवाह हो चुका है। लॉकडाउन के कारण मुकेश नहीं निकल सका। सामाजिक कार्यकर्ता ने ट्विटर के जरिए उसके साथ घटी घटना कीजानकारी सार्वजनिक की।

तब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने दिल्‍ली और बिहार के मुख्यमंत्री के अलावा दिल्‍ली कांग्रेस से भी मददकरने को कहा। दिल्‍ली कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष अभिषेक दत्त ने पार्टी नेता सुदेश को मदद के लिए लगाया। वे मुकेश को डीएम ऑफिस ले गए और सारा घटनाक्रम बताते हुए पास बनवाने को आवेदन किया। उसका पास बन गया है और वह बुधवार की सुबह एम्बुलेंस से भागलपुर पहुंचेगा। मुकेश ने आपके अखबार फोन पर बातचीत में कहा कि मेरे पहुंचने पर ही मां का अंतिम संस्कार हो सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here