पटना: बिहार की सियासत में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद तेजी से बदलाव आया है. चुनाव के बाद से ही दल-बदल का घटनाक्रम चल रहा है. ऐसे में पार्टी से अनबन के बीच सीपीआई नेता और जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने जेडीयू के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री अशोक चौधरी से मुलाकात की है.

जेडीयू के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी से उनके आवास कन्हैया कुमार से मुलाकात के बाद सियासी गलियारों में अटकलों का दौर शुरू हो गया है. कयास लगाये जा रहे हैं कि कहीं कन्हैया कुमार भी का दामन तो नहीं थामने वाले है. इसके पीछे की वजह कन्हैया कुमार के साथ इन इन दिनों सीपीआई में सब कुछ ठीक नहीं है. हालिया दिनों में पार्टी ने हैदराबाद में कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया था.

पार्टी नेता के साथ मारपीट का आरोप

बता दें कि कन्हैया कुमार पर पार्टी नेता और कार्यालय सचिव इंदु भूषण के साथ बीते दिनों में बदसलूकी और मारपीट करने का आरोप लगा था. पटना में बेगुसराय जिला काउंसिल की बैठक बुला कर उसे अचानक बिना बताए रद्द कर दिया गया था. इस बात से नाराज कन्हैया ने इंदु भूषण की पिटाई कर दी थी.

इस घटना से नाराज पार्टी नेताओ ने हैदराबाद में बैठक में उनके खिलाफ निंदा पत्र पारित किया गया था. हालांकि, अशोक चौधरी ने स्पष्ट कर दिया है कि ये कोई राजनीतिक मुलाकात नहीं थी. विकास के कार्यों के लिए मिलते जुलते रहना जरूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here