दिल्ली: राजद सुप्रीमो लालू यादव की मु’श्किलें बढ़ते ही जा रही है। चा’रा घो’टाला मामले में स’जा का’ट रहे लालू प्रसाद यादव की स’जा अभी और बढ़ सकती है। रांची हाईकोर्ट ने चारा घो’टाला मामले में लालू को जमानत देने के फैसले के खि’लाफ अब CBI सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। सीबीआई ने लालू यादव पर कोर्ट में ग’लत सूचना देकर ज’मानत लेने का आ’रोप लगाया है।

मिली जानकारी के अनुसार, रांची हाईकोर्ट ने देवघर कोषागार से अ’वैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव को जमानत दे दी थी। इस फैसले के खिलाफ सीबीआई सुप्रीम कोर्ट पहुंच गयी है। और हाईकोर्ट के फैसले को र’द्द करने की मांग की है। फिलहाल सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर दी है। और अब सुप्रीम कोर्ट को इस पर आगे सुनवाई करनी है।

इस मामले में CBI ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि देवघर कोषागार से अ’वैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद यादव को हाईकोर्ट से जमानत मिली है। सीबीआई ने कहा है कि लालू ने ज’मानत लेने के लिए हाईकोर्ट में ग’लत जानकारी दी है। दरअसल लालू ने हाईकोर्ट में कहा था कि चारा घो’टाले के मामलों में उन्हें कुल 14 साल की स’जा मिली है। इसमें से आधी यानि 7 साल की स’जा वे का’ट चुके हैं।

लिहाजा उन्हें अब ज’मानत मिलनी चाहिये। लालू की इसी दलील पर हाईकोर्ट ने जमानत दे दी थी। इस फैसले पर आ’पत्ति जताते हुए सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि लालू प्रसाद यादव को चारा घोटा’ले के मामलों में कुल 31 साल की स’जा मिली है। साथ ही सीबीआई ने इसका पूरा ब्योरा कोर्ट में जमा भी कर दिया है। सीबीआई का कहना है कि 31 साल की सजा पाने वाले लालू को आधी स’जा का’ट लेने के आधार पर जमानत नहीं मिलनी चाहिए।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here