बिहार में अप’राधों पर अं’कुश लगाने में ना’काम रही नीतीश सरकार की अब पोल खुल रही है। सुशासन बाबू पूरी दुनिया में ढिंढोरा पीटते हुए फिरते है कि उन्होंने जंग’लराज रा’ज ख़’त्म कर दिया। लेकिन नेशनल क्रा’इम रिपॉर्ट ब्यूरो (NCRB) 2018 की रिपोर्ट के अनुसार देश में सबसे ज्यादा दं’गे बिहार में हुए है। इन आकड़ो ने नीतीश सरकार और बिहार पुलिस की पोल खो’ल कर रख दी है। NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक बिहार में साल 2018 में 12 हजार 627 दं’गे हुए है। 2018 के इन आंकड़ों की माने तो यूपी में क्राइ’म कम हुआ और राज्य पहले पायदान से फि’सल कर दूसरे नंबर पर आ गया। साथ ही बिहार में सबसे ज्यादा रे’प की घट’नाएं दर्ज हुईं हैं।

इस रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में उत्तर प्रदेश में IPC के तहत अप’राध के 3,42,355 मामले दर्ज हुए। वहीं महाराष्ट्र में यह आकं’ड़ा 3,46,291 है। इसके साथ ही महाराष्ट्र अप’राध के मामले में नंबर एक पर है। वहीं अगर बात 2017 की करें तो NCRB के आंकड़ों के अनुसार 2017 में यूपी में अप’राध के 3,10,084 मामले दर्ज हुए थे जोकि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और केरल से भी अधिक था।

NCRB की रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में यूपी में सबसे अधिक 4018 ह’त्याएं हुई, दूसरे नंबर पर बिहार में 2934 ह’त्याएं हुईं, और तीसरे नंबर पर महाराष्ट्र में 2199 ह’त्याएं हुई। वहीं रे’प के मामलों में 2018 में मध्यप्रदेश नंबर वन रहा और 5433 रे’प के मामले दर्ज हुए, दूसरे नंबर पर राजस्थान में 4335 मामले दर्ज हुए, तीसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश में 3946 रे’प के मामले दर्ज हुए।

वहीं महानगरों तो अप’राध में दिल्ली नंबर वन पर रहा। रिपोर्ट के मुताबिक 2018 में दिल्ली में अप’राध के 2,25,977 मा’मले दर्ज हुए। ग़ाज़ियाबाद में 1,17,65, कानपुर में 7,747 मामले दर्ज हुए, लखनऊ में 1,71,85 मामले दर्ज हुए। और पटना में 1,17,42 अप’राध के मामले दर्ज हुए। इस रिपोर्ट के आने के बाद बिहार पुलिस के कामकाज पर भी बड़े सवाल उठ रहे है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here