बिहार में अ’पराधियों के साथ – साथ बिहार पुलिस भी अ’पराध करने में लगी हुई है। जिसकारण NCRB की रिपोर्ट के अनुसार बिहार में सबसे ज्यादा अ’पराध हो रहे है। वजह, खुद बिहार की पुलिस अप’राधियों से मिले हुए है तो ऐसा ही होगा। ताजा मामला पटना से सटे नौबतपुर थाना का है। जहाँ पिछले एक महीने से अपने बेटे की घर आने की राह देख एक मां पुलिस से तं’ग आ’कर प्रशासन के खि’लाफ अन’शन पर बैठ गयी है।

20 साल के गा’यब युवक सत्येन्द्र की मां ने पटना पुलिस पर गं’भीर आ’रोप लगाते हुए कहा है कि पुलिस कोई कार्रवा’ई नहीं कर रही है पुलिस आरो’पियों से दो लाख रुपये घू’स ले लिए हैं। साथ ही मेरे बेटे को खो’जने के लिए मुझसे भी 50 हजार रूपए ले लिए है। अपने बेटे की खोज में ये मां पुलिस के तमाम अधकारियों के दर के चक्क’र लगा चुकी है। लेकिन कोई भी महिला की बात नहीं सुन रहा है।

मिली जानकारी के अनुसार, खजूरी गांव के सुमन साव का 20 वर्षीय बेटा सतेंद्र कुमार पिछले 6 दिसंबर से घर से गा’यब है। लेकिन अभी तक उसका कोई अता-पता नही चल पाया है। उसकी माँ का कहना है कि उसके बेटे का किसी ने अ’पहरण कर लिया गया है।लेकिन नौबतपुर पुलिस ने उससे गु’मशुदगी का माम’ला द’र्ज करवा दिया गया। अपने इकलौते बेटे की मिलने की आस में उसने दर-दर की खाक छानने के बाद पुलिस-प्रशासन के खि’लाफ मो’र्चा खोल दिया है।

अ’पहरण को लेकर परिजनों ने गांव के ही दो युवकों पर आ’रोप लगाया है। परिजनों का आ’रोप है कि पुलिस उस दोनों आ’रोपियों से पैसे ले”कर शांत बैठ गई है। वही उसकी मां ने एक दरोगा पर आ’रोप लगाते हुए कहा कि हमसे भी बेटा के ढूंढने के नाम पर पचास हज़ार रुपया भी ले लिया है। खेत में मदजूरी करके किसी तरह बेटियों के शादी के लिए पैसा जमा कर रखा था, लेकिन वो पैसे भी पुलिस ने ठ’ग लिया। बेटे की याद में महिला का रो- रोकर बुरा हाल है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here