मुजफ्फरपुर: बिहार में कानून-व्यवस्था की एक बार फिर पोल खुल गयी है। जहां अ’पराधियों ने जज से ही 10 लाख की रं’गदारी मांगी। बिहार की कानून व्यवस्था सुधरने के बजाए बि’गड़ती ही जा रही है। ताजा मामला बिहार के मुजफ्फरपुर जिले का है जहां अ’पराधियों ने एक जज से रं’गदारी मांगने और उन्हें जा’न से मा’रने की ध’मकी दी गयी है। दरअसल, मुजफ्फरपुर में अ’पराधियों ने एक जज को चिट्ठी लिखकर 10 लाख रुपए की रं’गदारी मांगी है। अ’पराधियों ने इस चिट्ठी में जज को जा’न से मा’रने की ध’मकी भी दे डा’ली। अ’पराधियों ने यह भी लिखा है कि अगर पैसे नहीं दिए तो कोर्ट में घुसकर सी’ने में 7 गो’ली उतार देंगे। जिसके बाद जज ने अपनी सुझबुझ दिखाते हुए रं’गदारी मांगे जाने को लेकर नगर थाने में प्राथ’मिकी दर्ज कराई गई है।

यह घटना मुजफ्फरपुर के एडीजे-14 व विशेष न्यायाधीश एक्साइज और निगरानी राकेश मालवीय को बीती 9 जनवरी को हुई। सिविल कोर्ट के इंचार्ज नाजिर ने पुलिस को बताया कि ध’मकी भरी चिट्ठी सादपुरा नीम चौक से एके प्रसाद के पते से जज को भेजी गई है। चिट्ठी में अ’परा’धियों ने 2 हजार रुपए के नोट में पूरे पैसे देने के लिए कहा है। साथ ही यह भी लिखा गया था कि 14 जनवरी की शाम तक सदर अस्पताल के गेट पर पैसे पहुंचा दिए जाएं, वरना कोर्ट परिसर में घु’स’कर 7 गो’ली मा’र देंगे। इस चिट्ठी के आधार पर नाजिर ने नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है। जज की शि’कायत के बाद पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। पुलिस का कहना है कि वे जल्द अ’परा’धियों को प’कड़ लेंगे।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here